what is lga pga bga in hindi


दोस्तों, आपने कभी न कभी LGA, PGA, BGA CPU और Socket के बारे में जरूर सुना होगा। तो ये क्या होता है? कैसे काम करता है? आज के इस पोस्ट में हम डिटेल में जानेंगे-

बेसिकली कन्ज्यूमर लेवल पर तीन अलग-अलग प्रकार के CPU मार्केट में उपलब्ध है जिसमें 

1. LGA

2. PGA

3. BGA

ये CPUs अलग-अलग टाइप्स के होते हैं और एक दूसरे से बिल्कुल अलग। और इन्हें अलग-अगल कम्पनीज द्वारा बनाया जाता है।

Socket  क्या है?

lga pga bga in hindi
CPU को लगाने के लिए Motherboard पर एक Specific जगह बनायी जाती है जहां पर CPU को फीट किया जाता है और उसी Specific जगह को CPU Socket  कहा जाता है। 


अब बात करते हैं LGA के बारे में-

LGA (Land Grid Array)

lga pga bga processor cpu

LGA CPU में Pins नहीं होते हैं बल्कि इसमें पीछे की साईड प्लेन सरफेस पर छोटे-छोटे Golden Touch Points होते हैं और Pins Motherboard पर लगी होती हैं तो जब CPU को Socket पर लगाया जाता है तो CPU के Touch Points और Motherboard के Pins आपस में कनेक्ट होते हैं और इस प्रकार वर्क करते हैं। जनरली LGA Based CPU का यूज Intel करता है।

PGA (Pin Grid Array)

lga pga bga cpu processor

PGA CPU LGA CPU के बिल्कुल उलट होता है। PGA CPU में Processor पर Pins Physically लगे होते हैं और Motherboard के Socket पर Holes होते हैं जिसमें अन्दर की तरफ Touch Pads बने होते हैं तो जब CPU को उस Socket पर लगाया जाता है तो CPU के Pins उस Touch Points से Connect हो जाते हैं और इस प्रकार वर्क करते हैं। जनरली PGA Socket का यूज AMD करता है।

BGA (Ball Grid Array)


lga pga bga cpu processor

BGA CPU LGA और PGA CPU से बिल्कुल अलग होता है और Technical तरीके से देखा जाय तो BGA कोई Socket नहीं है। BGA CPU को कम्पनी द्वारा Manufacturing के समय ही फिक्स कर दिया जाता है। दरअसल BGA CPU पर Solder Balls लगे होते हैं जिसे Motherboard  के Connector Point पर सेट करके हीट की मदद से Permanently Fix कर दिया जाता है जिसे एक आम यूजर वापस निकाल नहीं सकता है। क्योंकि हाॅट एयर गन का यूज करने पर CPU पर लगे Solder Balls पिघल (Melt) जाते हैं और इस प्रकार दोनों एक दूसरे के साथ सोल्डेड हो जाते है। जनरली ऐसे CPU का यूज Mobile Phone, Tablets, Notebooks, Notebooks इत्यादि Compact Gadgets में किया जाता है।

तो आपने यहां जाना कि LGA, PGA और BGA CPU और Socket क्या है और कैसे काम करता है और इनमें क्या अन्तर है।

नोट-

Intel शुरूआत में PGA CPU बनाया करता था यानि AMD की ही तरह इसके Processor पर भी Pins हुआ करते थे लेकिन Pin टूट जाने बेण्ड होने जैसी प्राब्लम को देखते हुए वो 2004 से LGA Technique का यूज करना शुरू कर दिया। और आज तक करता चला आ रहा है।

AMD की बात करें तो वो शुरू से ही PGA CPU बनाता चला आ रहा है लेकिन बीच में उसने कुछ Processor LGA Based बनाये लेकिन जल्द ही वो वापस अपने प्लेटफार्म पर आ गया और आज तक वो अपने PGA Base Processor बनाता चला आ रहा है।

LGA CPU और Socket के नुकसान व फायदे-

lga pga bga in hindi
lga pga bga in hindi
LGA CPU बाकी CPU की अपेक्षा ज्यादा Durable होता है क्योंकि इसमें किसी भी प्रकार का कोई Pin नहीं होता है इसलिए Bend होने, टूट जाने जैसा कोई डर नहीं होता है। लेकिन LGA Motherboard बाकी Motherboard की अपेक्षा रिपेयर करना थोड़ा मुश्किल व रिस्की होता है क्योंकि इसमें Motherboard पर Pins लगी होती हैं जो कि काफी पतली और तंग स्थान पर होती है और ऐसे में गलत तरीके से CPU Place करने के कारण यदि कोई Pin Bend हो जाय तो उसे सीधा करना काफी रिस्की होता है क्योंकि कई बार Pins टूट जाती है और यदि कोई Pin टूट गई तो समझ लो कि Motherboard गया। तो इसलिए LGA के Motherboard पर CPU Place करते समय काफी सावधानी बरतनी चाहिए।

PGA CPU और Socket के नुकसान व फायदे-


lga pga bga in hindi

lga pga bga in hindi

PGA CPU LGA CPU की अपेक्षा कम Durable होते हैं क्योंकि इसमें Pin CPU पर ही Mounted होती हैं।

lga pga bga in hindi


इसलिए गलत तरीके से Socket में लगाने पर इसके Pins Bend हो जाते हैं हालांकि इसके Pins LGA की अपेक्षा थोड़े मोटे होते है तो बेण्ड होने पर इसे सीधा किया जा सकता है लेकिन बार बार ऐसा करने पर ये टूट जाते हैं लेकिन PGA Motherboard LGA Motherboard के मुकाबले अच्छा होता है क्योंकि इसके Socket में कोई Pins नहीं होते हैं तो टूटने, बेण्ड होने जैसी कोई बात नहीं होती है। 

BGA CPU और Socket


lga pga bga in hindi

lga pga bga in hindi


BGA CPU Socket कम्पनी द्वारा पहले से ही फिक्स मिलता है तो इसमें यूजर को किसी भी प्रकार के अपडेट का कोई ऑप्शन नहीं मिलता है। इसे केवल टेक्नीशियन ही निकाल व लगा सकता है। और जनरली इसको निकालने की जरूरत नहीं पड़ती है।
तो यहां पर आपने सभी के नुकसान और फायदे के बारे में जाना।

ध्यान दें-

किसी दूसरे कम्प्यूटर का Processor किसी और दूसरे Socket में चल ही जाय, ऐसा जरूर नहीं है क्योंकि सभी कम्पनी के अलग-अलग CPU Soket और Models होते हैं।

lga pga bga in hindi


आपने बहुत बार सुना होगा LGA 1150, LGA 1151, LGA 1155 LGA 1156 तो इसका मतलब क्या होता है? 
दरअसल यहां पर LGA के बाद का जो अंक होता है वो ये बताता है कि आपने उस Processor और Socket में कितने Pins लगे हैं तो जैसे कोई LGA 1150 का Processor है तो उसका मतलब कि उस Processor पर 1150 Connector Points है और Motherboard में भी उतने ही Pins हैं। उसी प्रकार LGA 1151 का मतलब उस Processor में 1151 Connector Points है और Motherboard में उनते ही Pins। तो यदि आप LGA 1150 वाला CPU 1151 वाले पर लगायेंगे तो पहले तो लगेगा नहीं और अगर लग भी जाता है तो वो वर्क नहीं करेगा क्योंकि Pins उसमें कम ज्यादा होने के कारण Touch Points और Pins आपस में Connect ही नहीं हो पायेंगी तो वर्क कैसे करेंगी। और यदि आप फोर्स करते हैं तो ऐसे में आपका Motherboard खराब हो सकता है या हो सकता है कि आपका CPU ही शार्ट कर जाय या दोनों ही खराब हो जाएं तो एक Computer का CPU दूसरे में Socket पर नहीं लग सकता है। लेकिन अगर दोनों Computers के Motherboard और CPU सेम है तो नो डाउट्स वो एक दुसरे में काम करेंगे।

यदि आपको नहीं पता है कि मेरा CPU किस-किस Motherboard को सपोर्ट करता है या मेरा Motherboard किस-किस CPU को सपोर्ट करता है तो इसके लिए आपको उस Processor या Motherboard के Specification को देखना पड़ेगा या उस कम्पनी के Website पर जाकर सर्च करना पड़ेगा।

AMD के साथ भी यही सीन है जिस Motherboard के लिए CPU बनाया गया है वो उसी में वर्क करेगा अब चुंकि AMD में Pins Processor पर ही होते हैं तो ऐसे में आप दुसरे Motherboard पर लगायेंगे तो Pins का फर्क होने के कारण Insert ही नहीं होगा। यदि फिर भी आप फोर्स करते हैं तो फलस्वरूप Pins Bend हो जाएंगी या टूट जाएंगी और इसमें केवल आपका ही नुकसान होगा। इसलिए जिसके लिए जो बनाया गया है जिसके साथ जो कॉम्पैटिबल है उसी को यूज करें।


उम्मीद है कि आपको LGA, PGA और BGA CPU और Socket के बारे में सभी चीजें अच्छे से समझ आ गई होंगी और सारे डाउट्स भी क्लीयर हो गये होंगे।


पोस्ट अच्छी लगी हो तो इसे दूसरों के साथ शेयर करें ताकि उनके भी डाउट्स क्लीयर हों। और यदि कोई सवाल या सुझाव हो तो कमेण्ट के माध्यम से बताएं।


इस पोस्ट पर अपना अमूल्य समय देने के लिए आपका धन्यवाद!
मैं शमीम अहमद मिलता हूँ आपसे अपने अगले पोस्ट में तब तक के लिए-नमस्कार

Post a Comment

Please do not enter any type of spam or link in the comment box

Previous Post Next Post