U.2 SSD in Hindi


What is U.2 SSD in Hindi

U.2 एसएसडी क्या है? कैसे काम करता है? आज के इस पोस्ट में हम जानेंगे।


U.2 SSD in Hindi

U.2 एसएसडी अब तक का सबसे Latest एसएसडी है जो कि अपने High Performance के लिए जाना जाता है।
इस एसएसडी को 2011 में SSD Form Factor Working Group (SFFWG) ने लांच किया था तब उसका नाम SSF-8639 था। उस समय वो Enterprises Level पर यूज किया जाता था। लेकिन 2015 इसका नाम बदलकर U.2 रख दिया गया।

पिछले पोस्ट में आपको इंटेल के PCIe Based एसएसडी के बारे में बताया गया जिसमें इंटेल ने अपने Optane 750P  वाली Series में 2 प्रकार की एसएसडी लांच की थी पहला PCIe Based और दूसरा U.2 Based एसएसडी था।

U.2 एसएसडी भी Same PCI Express Based एसएसडी की तरह ही Work करती है PCIe Lane का यूज करके Data Transfer करती है। Same Protocol का यूज करती है। और ये एसएसडी देखने में बिल्कुल SATA 2.5 Form Factor वाले के जैसे लगती है। 

U.2 SSD in Hindi

U.2 एसएसडी का भी Interface बाकियों की ही तरह एकदम अलग होता है। इस एसएसडी के साथ एक Cable भी दिया जाता है जो कि बाकियों से बिल्कुल अलग होता है। एक Portion बहुत ही छोटा कुछ Square Type का होता है जिसे Motherboard के Port पर लगाया जाता है और दूसरा Portion चौड़ा होता है जिसे एसएसडी से Connect करते हैं उसी चौड़े Portion पर एक अलग से Power Connector का Wire निकला होता है जिसे Power Connect किया जाता है। वैसे ही जैसे SATA में करना पड़ता है।
U.2 SSD in Hindi

Intel Optane की U.2 750P Series वाली एसएसडी 3.0 x4 पर Work करती थी। जिसकी Speed बहुत ज्यादा तो नहीं थी। क्योंकि उसमें Nand Flash Chip का इस्तेमाल किया जाता था। तो Latency के कारण Performance पर फर्क पड़ता था। क्योंकि बहुत सारी एसएसडी थी जो इसके बराबर ही Speed देती थी। इसलिए Intel ने 2017 में अपना एक और Series Intel Optane 3D Xpoint 900P लाया इसमें भी 2 प्रकार की एसएसडी को लांच किया गया जिसमें पहली PCIe Based थी और दूसरी ये U.2 वाली थी। इस बार इंटेल ने इसमें Nand Flash Memory Chip का यूज नहीं किया बल्कि इसमें Optane Based 3D Xpoint Memory का यूज किया ताकि Latency को कम से कम किया जा सके और Performance को ज्यादा से ज्यादा बढ़ाया जा सकें।


ये एसएसडी भी PCI Express 3.0 x4 पर Work करती थी। जिसकी Speed 32 Gb/s यानि लगभग 4 GB/s के आस-पास की थी। Read-Write Speed तो पिछले वालों से बहुत ही Fast की थी। लेकिन जल्द ही इंटेल अपना एक और Series ले आया जिसका नाम इंटेल Optane 3D Xpoint 905P Series था। इसमें पहले वाले Optane 3D Xpoint 900P की अपेक्षा और Speed को बढ़ाया गया हालांकि ये भी PCIe 3.0 x4 पर वर्क करती थी। और इसकी भी Speed 4 GB/s ही था। लेकिन Read-Write की Performance पहले वाले से भी ज्यादा की थी। क्योंकि Intel Optane Memory का Use कर Latency को कम किया गया जिसके कारण ये Possible हो सका।

ऐसा नहीं है कि U.2 या PCIe Based एसएसडी केवल Intel ही बनाता है। और भी Companies हैं जैसे- Samsung, Micron, Aorus इत्यादि जो U.2 और PCIe Based एसएसडी बनाती हैं।

इंटेल Based U.2 एसएसडी का अभी तक केवल एक ही Version मार्केट में उपलब्ध है जो PCIe 3.0 x4 पर Work करती है। और ये एसएसडी NVMe Protocol का यूज करती है। और सबसे बड़ी बात की इस एसएसडी के पहला Version की शुरूआत PCIe 3.0 से होती है। यही Same Speed आपको M.2 एसएसडी के 3rd Revision में देखने को मिलता है।

U.2 SSD in Hindi

मौजूदा समय में Intel Optane 3D Xpoint 905P Series की U.2 एसएसडी काफी Fast है और अभी तक इससे Fast कोई दुसरी एसएसडी मार्केट में नहीं है जो इसे Compete कर पायें। ऐसा लगता है कि इसका अगला Version ही इसे Compete कर पायेगा लेकिन इंटेल ने अभी तक किसी भी प्रकार की जानकारी नहीं दी है कि कब तक इसका अगला Version  आयेगा। 
लेकिन Rumors है कि इंटेल अपने इस एसएसडी का Next Version इसी साल 2020 में ही लाने वाला है लेकिन इंटेल की तरफ से कोई Announcement नहीं की गई है।

इस SSD के कुछ Pros and Cons

ये  एसएसडी बहुत ही Fast SSD होती है।
इसका Interface अलग होता है।
Power Cable भी एकदम अलग होता है
इस एसएसडी के लिए Motherboard पर अलग से Port आता है।
इस एसएसडी की Starting PCIe 3.0 से होती है।
ये एसएसडी NVMe Protocol का यूज कर Data Transfer करती है।
इस एसएसडी में Intel Optane Based Memory लगाई जाती है।
इंटेल के अलावा U.2 एसएसडी Micron, Samsung, Aorus Companies बनाती है।


ये एक बहुत ही Costly SSD है।
आसानी से मार्केट में उपलब्ध नहीं होती है।
ये एसएसडी Intel Platform पर Work करती है।
इसका  Interface High End Motherboard पर ही देखने को मिलता है।
इस एसएसडी का यूज करने के लिए आपके पास एक High End Computer होना चाहिए।
कम से कम 7th Generation का Computer होना चाहिए।
U.2 एसएसडी को यूज करने के लिए PCIe Gen 3.0 Slots Motherboard पर होनी चाहिए।
ये एसएसडी Normal User के बजट में नहीं होती है।

इन्हीं कुछ कारणों की वजह से ये एसएसडी Widely Available नहीं है।
U.2 SSD in Hindi
U.2 SSD को आप Alternate तरीके से भी यूज कर सकते हैं जैसे M.2 का Adapter आता है जिसपर U.2 का Interface रहता है। इस पर आप Cable Connect करके उसे यूज कर सकते हैं क्योंकि वो Adapter M.2 है और वो लगेगा भी उसी M.2 वाले Interface पर तो Performance भी आपको M.2 वाली ही मिलेगी।

ये तब के लिए है जब आपके Motherboard पर U.2 का Slot न हो और आप U.2 एसएसडी खरीद चुके हो तो आप इसे M.2 Slot पर लगा कर यूज कर सकते हैं। लेकिन आपको Purchase करने से पहले इस चीज को सुनिश्चित करना होगा कि Port है कि नहीं। क्योंकि इतना महंगा एसएसडी लेकर उसे M.2 की तरह यूज करना मेरे हिसाब से ये कोई बुद्धिमानी का काम नहीं है । इससे तो अच्छा होगा कि एक अच्छे ब्राण्ड का एम.2 एसएसडी लेलें।

Conclusion

Intel की ये एसएसडी बहुत अच्छी है। लेकिन इतना ज्यादा Costly है कि कहीं से भी ये आम यूजर को तो छोड़ो अच्छे से अच्छे यूजर के बजट में नहीं आता है। इसलिए आज भी ये मार्केट में Easily Available नहीं हैं। और यही कारण है कि इसका Interface भी बहुत ज्यादा High End Motherboards पर देखने को मिलता है। इस एसएसडी का ज्यादातर यूज Professionals, Enthusiasts ही करते हैं। और इसके अलावा इसका यूज Servers, Work Stations में ज्यादातर होता है। क्योंकि इन सभी जगह पर Speed की Requirement होती है। और इस एसएसडी का सही सही यूज यही लोग कर पाते हैं।

तो आज के इस पोस्ट में हम लोगों ने U.2 एसएसडी के बारे में जाना। उम्मीद है आपको सबकुछ समझ आ गया होगा।

Post a Comment

Please do not enter any type of spam or link in the comment box

Previous Post Next Post