blue-scree-error-explain-in-hindi



Blue Screen Error in Hindi.

Blue Screen Error क्या होता है?

दोस्तों, आपने कभी न कभी Blue Screen Error का सामना जरूर किया होगा। Blue Screen वही जो आपके Computer या Laptop में अचानक से Appear होता है और आपका System चन्द सेकेण्ड में ही Restart हो जाता है और आप देखते रह जाते हैं। 

अब ऐसे में आप कुछ कर भी नहीं सकते, क्योंकि जब भी कभी Blue Screen Appear होता है तब सिस्टम Restart होता ही होता है जिसे आप क्या कोई भी नहीं रोक सकता है और ये भी कि ये कब, किस समय Appear हो जाएगा इसे भी कोई नहीं जान सकता है। 

है न ये थोड़ी Tension वाली बात। लेकिन घबराने या Tension लेने की कोई जरूरत नहीं है क्योंकि यहां पर आपको इस Problem का हल मिलेगा। इसलिए  इस आर्टिकल के साथ बने रहिये।

यदि आपके सिस्टम में Blue Screen बार-बार आ रहा है, दिन भर में कई बार आ रहा है या थोड़े-थोड़े दिनों के अन्तराल पर आ रहा है तो ये आपके System की तरफ से आपको एक Hint है कि आपका System Stable नहीं है उसमें कुछ न कुछ दिक्कत चल रहा है और इसलिए आपको उस परेशानी को जल्द से जल्द Find out कर ठीक करना या कराना चाहिए ताकि भविष्य में आप किसी बड़े दिक्कत से बचे रहें। 

Blue Screen Error को Blue Screen Dump, Blue Screen of Death, BSOD या Bsod (बीसोड) आदि नामों से भी जाना जाता है।

Blue Screen क्यों आता है? Why does Blue Screen Appear? 

Blue Screen क्यों आता है को जानने से पहले हम ये जानते हैं कि ये कैसे आता है। ठीक, तो देखिए आपके Computer के OS (Operating System) यानि Microsoft Windows को बहुत ही स्मार्ट बनाया गया है और उसको कुछ इस प्रकार से Configured किया गया है कि वो किसी भी सिस्टम में चल रहे छोटे से छोटे और बड़े से बड़े Problems को Detect कर लेता है और ज्यादातर Problems को खुद से ही Troubleshoot कर ठीक कर देता है।
 
लेकिन जब वो किसी Problem को Detect तो करता है लेकिन उसे ठीक नहीं कर पाता है तो वो Blue Screen दिखाना शुरू कर देता है। इससे होता ये है कि Blue Screen देखने के बाद उस यूजर का पुरा ध्यान उसके Computer या Laptop पर चला जाता है और वो उस Problem को Find out कर ठीक करने में लग जाता है। 

अब बात करते हैं कि Blue Screen क्यों आता है? किस कारण से आता है?

देखिए, Blue Screen आने का कोई एक Specific Reason नहीं होता है कि बस आपको बता दिया जाय कि यहां से है और आप तुरन्त उसे ठीक कर लें। ऐसा कुछ नहीं है। 

Blue Screen आने के अनेकों कारण हो सकते हैं। ये आपके Hardware से भी हो सकता है और आपके Software से भी हो सकता है।

अब Hardware में भी बहुत सारी चीजें से हो सकती हैं और उसी प्रकार Software में भी कई सारी चीजें से हो सकती हैं।

तो वो कौन-कौन से Reasons हो सकते हैं Blue Screen आने के चलिए सभी के बारे में बारी-बारी डिटेल में जानते हैं- 

सबसे पहले हम बात Software Reasons की करते हैं।

Software


blue-scree-error-in-hindi

बहुत सारे युजर जानकारी के अभाव में बिना अपने Computer के Specs को देखे ही कुछ ऐसे Software Install कर देते हैं जिसे उनका Computer Support ही नहीं कर पाता है और Blue Screen आना शुरू हो जाता है। और ऐसे में वो परेशान हो जाते हैं। 

कभी कभी ऐसा भी होता है कि कोई Software Corrupt हो या पुरी तरह से Copy न हुआ हो या सही से Download न हुआ हो या उसकी कुछ Necessary Files Missing हो तो भी Blue Screen आने लगता है या इसके आने के चांसेस बढ़ जाते हैं। इन सब चीजों का आपको ध्यान देना चाहिए।

Drivers 


blue-scree-error-in-hindi
Driver आपके Software और Hardware के बीच एक Mediator की भूमिका निभाता है। अगर किसी Hardware को लगाकर उसके Driver को Install न किया जाय तो वो Particular Component Work ही नहीं करेगा।

बहुत बार ऐसा भी होता है कि किसी Hardware को लगाने के बाद उसका सही Driver Install न किया जाय या कोई ऐसा Driver Install कर दिया जाय जो Supportable ही ना हो तो भी Blue Screen आना शुरू हो जाता है इसके साथ ही यदि कोई Driver Working Period में Corrupt हो जाय तो भी Blue Screen of Death आने लगता है।

इसके आलावा आपने ये भी देखा होगा कि लोग System को Format करने के बाद वहीं पुराने Drivers Install कर देते हैं जो कि नई चीजों के साथ Compatible नहीं होते हैं  इस कारण से भी Blue Screen आना शुरू हो जाता है। इसलिए बहुत पुराने Drivers को Install करने से बचें और समय के साथ-साथ आपने Drivers को भी UP to Date रखें।

Operating System (Microsoft Windows)


blue-scree-error-in-hindi

Most of the case में Windows के Corrupt होने पर या Windows की कुछ Necessary Files के डिलिट होने पर भी Blue Screen आने लगता है। तो यदि आपके सिस्टम में Blue Screen बार-बार आ रहा है तो Maybe आपके OS से हो सकता है।

ज्यादातर लोग Pirated Windows का ही यूज करते हैं जो कहीं न कहीं से जुगाड़ से मिला होता है जैसे- Download करके, किसी से मांगकर या कहीं से सस्ते में खरीदकर। हां, आपका ये सोचना बिल्कुल ठीक है कि जब हमारा काम सस्ते में चल जा रहा है तो क्या जरूरत है हमें ज्यादा पैसे खर्च करने की। 

लेकिन हमें ये भी नजर अंदाज नहीं करना चाहिए कि ये Windows Crack Version होते हैं जिसे पहुंचे हुए खिलाड़ियों द्वारा Crack कर Edit किया गया होता है। तो किसी भी प्रकार के खतरे से इंकार नहीं किया जा सकता है। 

Virus 

blue-scree-error-in-hindi

आपके Computer  में यदि Virus आ जाये तो वो सबसे पहले आपके Windows को नुकसान पहुचाना शुरू करता है वो आपके OS की जरूरी Files को Corrupt करना शुरू कर देता है और जब आपके Windows की कोई Important File Corrupt या डिलिट हो जाती है तो ऐसे में भी Blue Screen आना शुरू हो जाता है।

अब Virus कहां-कहां से आ सकता है इस चीज को आप भी अच्छी तरह से जानते व समझते हैं। 

तो यदि आप अपने System को Virus के Attack से बचाना चाहते हैं Secure रखना चाहते हैं तो फालतु के साइट्स पर विजिट करना अवाइड करें और बिना मतलब के Software को Install करने से बचें। 

क्योंकि आज के समय में आपको Online ऐसे बहुत सारे Software मिल जाएंगे जो आपके सिस्टम के Performance को Enhance करने का दावा करते हैं। तो ऐसे Software से बचें क्योंकि ऐसे Software सिवाय आपको नुकसान पहुंचाते के कुछ नहीं करते हैं।

अगर यूज ही करना है तो कोई अच्छा Anti-Virus यूज करें जो कि वास्तव में आपके सिस्टम को वायरस से सिक्योर रखता है। और हां, Free के Fake Anti-Virus से सावधान रहें उनका यूज बिल्कुल भी न करें।

Bios


blue-scree-error-in-hindi


Bios यानि Basic Input Output System जिसके बारे में आप जरूर जानते होगें। आपके Computer की सारी Setting इसी में की जाती है। तो जब भी कभी Bios के Setting से छेड़छाड़ कर दी जाती है उल्टे-सीधे Setting कर उसे Save कर दिया जाता है तो ऐसे में भी Blue Screen आने लगता है। 

तो यदि Blue Screen Bios में Setting से छेड़छाड़ करने के बाद आ रहा है तो आपको चाहिए कि Bios में जाकर उसे Default या Reset कर दें। इससे होगा ये कि आपका Bios Reset होकर Default Stage में आ जाएगा और आपकी Blue Screen की Problem दूर हो जाएगी।

एक चीज और वो ये कि यदि Bios बहुत पुराना Out-dated हो तो भी Blue Screen आने लगता है। तो इस Problem से निजात पाने के लिए आपको अपने Bios को Update रखना चाहिए।

तो ये थे कुछ Software Related Issues जिसके कारण आपके सिस्टम में Blue Screen आ सकता है।

अब बात करते हैं Hardware Related Problems की जिसके कारण Blue Screen की आता है-

SMPS (PSU)


blue-scree-error-in-hindi

यदि आपके Computer में एक Bad Quality का सस्ता Power Supply लगा है तो भी Blue Screen का Issue आने लगता है। क्योंकि एक सस्ते Power Supply में सभी चीजें उसी Budget Range में लगायी जाती हैं जो किसी भी प्रकार से Certified नहीं होती हैं 

तो ऐसे में जब आपका System ज्यादा Power की Demand करता है या जब उस पर Heavy Load पड़ता है तो वो Proper और Accurate Power Provide नहीं कर पाता है जिस कारण से Blue Screen आने लगता है। क्योंकि आपके Processor को Continue Power की जरुरत होती है इसमें यदि Millisecond भर का भी Fluctuation या Delay हुआ तो सिस्टम तुरन्त Restart हो जाएगा।

नोट- ये बहुत ही Important Point है जिसे आपको अच्छे से समझना चाहिए। आपने Blue Screen का सामना तो Definitely किया ही होगा। तो आपने एक चीज को भी नोटिस किया होगा कि जब भी कभी Blue Screen Appear होता है तो उस Blue Screen के पेज में कुछ Code भी Display होता है वो Code पेज के बीच में और नीचे बाटम में भी लिखा होता है।

उस Code को आपको इसलिए दिखाया जाता है ताकि आप इस चीज को जान पाये कि जो Blue Screen अभी Appear हुआ था वो किस वजह से हुआ था। तो यदि आप उस Code को नोट कर Online Search करेंगे तो आपको कारण और Solution दोनों के ही बारे में पता चल जाएगा। 

Windows 7 में अलग Type का Blue Screen आता है, Windows 8 में अलग Type का और Windows 10 में अलग Type का।

और अब तो Windows 10 में आपके सुविधा के लिए बकायदा QR Code Appear होता है जिसे आप अपने Mobile से Scan कर तुरन्त कारण जान सकते हैं।

लेकिन...... Blue Screen SMPS की वजह आ जाय तो बीना किसी Indication के तुरन्त System Restart हो जाता है। 

किसी Computer में किस प्रकार का PSU लगाना चाहिए कितने Watt का लगाना चाहिए और कौन-सा Certification उसमें होना चाहिए।

नीचे दिये गये लिंक पर क्लीक करके आप सभी के बारे में बारी-बारी जान सकते हैं।

How much watt SMPS do we really need?

80 Plus Certification in Hindi


Ram Memory 



Blue Screen आने का एक बड़ा कारण आपका Ram भी हो सकता है। और अक्सर आपने देखा भी होगा कि लोग अपने सिस्टम के Ram को निकालकर साफ करने लगते हैं और अधिकतर केस में ऐसा करने पर सही भी हो जाता है।

दरअसल बहुत सारे लोग अपने सिस्टम पर तब तक ध्यान नहीं देते हैं जबतक उनके सिस्टम में कोई Problem ना आने लगे। और ऐसे में होता ये है कि समय के साथ-साथ आपके सिस्टम के Component पर Dust, Carbon वगैरह जम जाता है। जिस कारण उनके Computer में कई Issues आने लगते है जैसे- Heat होना, Proper Work न करना इत्यादि। उसी में से एक Issue Blue Screen का भी होता है जो Ram की वजह से आता है।

इसके अलावा Ram के खराब हो जाने के कारण भी आपके System में Blue Screen आने लगता है।
अलग-अलग Frequency या अलग-अलग Size के Ram के यूज करने से भी Blue Screen का Error आता है। इसलिए Ram को Mix Match नहीं करना चाहिए।

What is Ram in Hindi

DDR-1 DDR-2 DDR-3 DDR-4 Ram in Hindi

Single Channel Dual Channel Triple Channel Quad Channel Ram in Hindi

Ram kit in Hindi


इसके अलावा यदि आपके सिस्टम में Ram की कमी हो तो भी Blue Screen के आने के चांसेज बढ़ जाते हैं और ऐसे में यदि आपने Virtual Ram को Disable कर दिया है तो Blue Screen आने के चांसेस और भी ज्यादा बढ़ जाता है क्योंकि एक तो Ram की कमी उपर से Virtual Ram भी Disable। 

Can we use pen drive as ram in Hindi


Over Heating 


blue-scree-error-in-hindi


आपके Computer में यदि कोई Component बहुत ज्यादा Heat हो रहा है जैसे- Ram, CPU, GPU या कोई अन्य Component तो भी ये Problem आने लगता है। Specially बात करें CPU करें तो यदि आपका CPU Over Heat हो रहा है तो भी Blue Screen आता है।

CPU Over Heat होने के कई कारण होते हैं जैसे- आपके System में Space की कमी हो, ठीक से Ventilation न हो पाता हो, आपके CPU में काफी धूल या डस्ट जम गया हो या CPU पर लगा Fan खराब हो गया हो। इन सब कारणों से भी Blue Screen आना शुरू हो जाता है।

बहुत सारे लोग ज्यादा Better Performance पाने के लिए अपने CPU को Over Clock करते हैं लेकिन अक्सर इस बात को नजर अन्दाज कर देते हैं कि CPU को Over Clock करने से न केवल Performance Increase होता है बल्कि इसके साथ-साथ Heat भी Increase होता है जिसे उस CPU के साथ लगा हुआ Fan हैण्डल नहीं कर पाता है और Blue Screen आने लगता है और लोग परेशान हो जाते हैं। तो इन सबका आपको ध्यान देना चाहिए। 

Computer Processor in Hindi

CPU Core in Hindi

CPU / Processor Transistor in Hindi

CPU Frequency Clock Rate in Hindi

Intel Core i3, i5, i7, i9 Processor in Hindi


Hard Disk Problem


blue-scree-error-in-hindi

जैसा कि आप जानते है कि Hard Disk आपके System का एक ऐसा Component होता है जो सिस्टम के On होने से लेकर Off होने तक वर्क करता रहता है। इसीलिए वो भी एक समयावधि के बाद खराब होने लगता है। खराब होने का मतलब कि उसमें Bad Sector आ जाता है।

Bad Sector किसी Hard Disk के लिए एक रोग जैसा होता है जो दिनों-दिन आपके Hard Disk के एक सेल से दूसरे सेल तक फैलता जाता है। और धीरे-धीरे पुरे Hard Disk को अपने चपेट में ले लेता है। और एक समय के बाद वो Hard Disk काम करना बंद कर देता है।

अब आप सोच रहे होंगे कि इससे भला Blue Screen क्या लेना-देना है, बिल्कुल लेना-देना है। चलिए डिटेल से समझते हैं।

एक Normal User अपने सिस्टम में एक ही Hard Disk लगवाता है जो कि लम्बे समय तक चलता है। क्योंकि Hard Disk एक ही दिन में भर जाने की चीज नहीं है। इसीलिए इस पर विशेष ध्यान नहीं दिया जाता है।

लेकिन जब ज्यादा समय तक एक Hard Disk का यूज किया जाता है तो उसमें Bad Sector आ जाते हैं जिस कारण से उस Particular सेल का Documents या File या जो भी उसमें था खराब हो जाता है तो जब आपके द्वारा उस File को या उस Documents को Access करने की कोशिश की जाती है तो आपके Hard Disk का Head वहां पर अटक जाता है फंस जाता है और आपको Blue Screen दिखा दिया जाता है। 

Bad Sector आपके Hard Disk में एक से ज्यादा और अलग-अलग जगहों पर हो सकते हैं। तो जब-जब उस पार्टीकुलर सेल के फाइल्स को एक्सेस करने की कोशिश की जाएगी तब-तब Blue Screen आयेगा। 

अब ये चीज आपको कैसे पता चले कि Hard Disk में Bad Sector है या नहीं । इसके लिए बहुत सारे Tools Online Available हैं जो आपके Hard Disk को Scan कर बता देंगे कि Bad Sector है या नहीं।

एक चीज और समझ लीजिए कि यदि किसी Hard Disk में Physically Bad Sector आ गया हो तो उसे निकाला नहीं जा सकता है। हां, उस पार्टीकुलर एरिया को लाॅक जरूर किया जा सकता है जहां पर Bad Sector है। इसके लिए भी Utility Tools आते हैं जो आपको Online मिल जायेंगे।

नोट- कभी भी अपने Hard Disk को खोलने की कोशिश न करें। अन्यथा अपना नुकसान कर बैठेंगे।

यदि Blue Screen बार-बार  आ रहा है तो आप एक बार Hard Disk को Change कर या दुसरे Hard Disk लगा कर चेक कर सकते हैं। यदि Hard Disk की वजह से होगा तो सही हो जाएगा। 

Parallel ATA in Hindi

Serial ATA in Hindi

WD Hard Disk in Hindi

Sata SSD in Hindi

Less Storage or Drive Partition Full 

यदि आपके Hard Disk में Space की कमी हो या कोई Partition भर गया हो Specially C Drive तो भी Blue Screen आ सकता है। हालांकि ऐसा होने का चांस बहुत ही कम होता है। क्योंकि Space की कमी होने पर Low Space का Notification Show होने लगता है। लेकिन इससे Blue Screen नहीं आएगा ऐसा नहीं कहा जा सकता।

और जैसा कि मैंने आपसे पहले ही कहा कि आपके सिस्टम में Blue Screen क्यों आ रहा है किस वजह से आ रहा है इस चीज को आप तभी जान पायेंगे जब आप हर एक Possibility को बारी-बारी चेक करेंगे।

Blue Screen कब आयेगा किस वजह से आ जाएगा, कहा नहीं जा सकता है लेकिन यदि आपके सिस्टम में ये बार-बार आ रहा है और आप इससे परेशान हो चुकें हैं तो बस किसी तरह से उस Blue Screen वाले Code को नोट कर लें क्योंकि इससे आपको उस Problem को Find-out करने में काफी आसानी हो जाएगी। 

इसके लिए आप अपने मोबाइल का यूज कर सकते हैं। आप किसी तरह जल्दी से उस कोड को अपने मोबाइल में कैप्चर कर लें और गुगल पर उसको सर्च करें। आपको इसका Solution जरूर मिल जायेगा।

Motherboard 


blue-scree-error-in-hindi

Blue Screen आने का एक बड़ा कारण आपका Motherboard भी हो सकता है। जैसे- Motherboard का कोई IC खराब हो जाए जल जाय, कोई IC Desold हो जाए, कोई Capacitor खराब हो जाय फट जाय, Mosfet खराब हो जाए इत्यादि कारणों से भी Blue Screen आने लगता है। 

अगर Motherboard से फाल्ट आ रहा है तो उसका इलाज तो एक Hardware Engineer ही कर सकता है। क्योंकि एक नार्मल यूजर इस चीज को नहीं कर पायेगा।

Old Generation Motherboard in Hindi

New Generation Motherboard in Hindi

Motherboard Form Factor in Hindi


ध्यान दें यहाँ पर केवल सम्भवनाएँ व्यक्त की जा रही हैं ऐसा बिलकुल भी नहीं कहा जा रहा है कि ये दिक्कत बस यहीं से है और इसी से है ही।

Blue Screen से सम्बन्धित लगभग सभी Points को हमनें क्लीयर कर लिया है।

अब कुछ Common Questions को भी देख लेते हैं जो जनरली Blue Screen से रिलेटेड पुछे जाते हैं।

Q. What is the reason of Blue Screen or BSoD?

Ans. जैसा कि आपको शुरू में ही बताया गया कि Blue Screen या Blue Screen of Death आने का कोई एक Specific Reason नहीं होता है जो कि आपको फट से बता दिया जाय और आप तुरन्त ठीक कर लें। इसके लिए आपको बारी-बारी चीजों को देखना पड़ेगा। और यदि आप उस Error Code को नोट कर लें तो आपको और भी ज्यादा आसानी होगी।

Q. How do I fix Blue Screen Error ?

Ans. यदि आप Blue Screen के Error Code को नोट कर Online Search करेंगे तो निश्चितरूप से ये आपको पता चल जायेगा कि ये Problem Particular किस वजह से है। तो यदि Hardware से है तो उसे ठीक करायें और यदि Software से है तो उसे ठीक करायें।

Q. Is Blue Screen Error dangerous?

Ans. देखिए, वैसे तो Blue Screen आना कोई अच्छी बात नहीं है। लेकिन ये डिपेण्ड करता है कि Blue Screen कैसे आ रहा है यानि दिन में कई बार आ रहा है या रोज-रोज आ रहा है। कभी-कभार आ रहा है या दो-चार दिन में एकाक बार आ रहा है। तो पहले इस चीज को देखना होगा।

यदि बहुत दिनों में एकाक बार आ जा रहा है तो बहुत ज्यादा घबराने की जरुरत नहीं है। लेकिन उस Error Code को जरूर नोट करें जिसकी वजह से आया उसको इग्नोर बिल्कुल न करें।

अब कभी-कभी ऐसा होता है कि आपका System On है और आप उसपर बहुत देर से उस पर कोई वर्क नहीं कर रहे हैं वो एकदम Idle Mode में है और एकदम से आपने उस पर कोई Heavy Load Assign कर दिया तो ऐसे में हो सकता है कि आपको Blue Screen आ जाए। ऐसा जरूरी नहीं है कि आयेगा ही आयेगा।

Q. Does Overheating cause Blue Screen?

Ans. बिल्कुल हो सकता है यदि आपके System का कोई Component Overheat हो रहा है तो। और जनरली आपके सिस्टम में Processor, Ram या GPU Overheat होते हैं। लेकिन इसके अलावा भी कई चीजें हो सकती हैं जैसे- Motherboard में बहुत सारे Components लगे होते हैं हो सकता है उसमें से कोई चीज Heat हो रहा हो। कोई Chip IC, Mosfet इत्यादि। तो आपको काफी रिसर्च करना पड़ेगा तब जाकर आप उस चीज को जान पायेंगे।

Q. Can Ram cause Blue Screen? 

Ans. मोस्टली लोग Blue Screen आने पर Ram को ही First Priority देते हैं और तुरन्त Ram निकालकर साफ-सुथरा कर वापस लगा देते हैं और कई Case में वो सही भी हो जाता है। 

कभी-कभी Ram के खराब हो जाने या Ram पर लगे किसी Chip के खराब हो जाने के कारण से भी Blue Screen आने लगता है। 

Ram Mix Match करने से भी Blue Screen आता है जो पहले ही बताया जा चूका है। 

Q. What is a Blue Screen?

इस प्रश्न का उत्तर शुरुआत में ही बताया जा चूका है आप उसे फिर से देखें।

नोट- यदि आपके सिस्टम में Blue Screen Error आ रहा है तो उपर बताये गये सभी चीजों को बारी-बारी से देखें। इसके साथ ही एक और चीज का ध्यान दें कि कभी-कभी ऐसा भी होता है कि System में लगे Wires लूज हो जाते हैं जिसके कारण Proper Connectivity नहीं हो पाती है तो भी Blue Screen आने लगता है।

यदि इन चीजों को करने के बाद भी आपको कुछ नहीं समझ आ रहा है तो आप अपने सिस्टम को एक बार फॉर्मेट कर सकते हैं। इससे होगा ये की यदि वो दिक्कत सॉफ्टवेयर रिलेटेड होगा तो सही हो जायेगा 

और यदि फिर भी नहीं हो रहा है तो वो 100% किसी Hardware की वजह से है। वो हार्डवेयर कोई भी हो सकता है। Ram हो सकता है, Hard Disk हो सकता है, Motherboard हो सकता है, GPU लगा है तो भी हो सकता है। इसलिए यदि आप कर खुद से प्रॉब्लम को शॉर्टआउट कर सकते है तो करें अन्यथा Technician से संपर्क करें।

Conclusion

Blue Screen of  Death यानि BSoD के बारें में लगभग-लगभग हर Points को हमनें Discuss कर लिया है और मेरे हिसाब से शायद ही कोई Point रह गया हो। 

तो यदि आप भी Blue Screen Error को Face कर रहे हैं तो बताये गये सभी Points पर बारी-बारी से गौर करें और उस कारण को खोजने की कोशिश करें।

और यदि विवेष जानकारी न हो तो रिस्क न लें। एक अच्छे Technician को दिखायें और उस Problem से निजात पायें। 

I hope आपको सभी चीजें अच्छे से समझ आ गई होंगी। लेकिन फिर भी कुछ बताने से रह गया हो या इसके रिलेटेड कोई प्रश्न आपके मन में हो तो कृपया कमेण्ट के माध्यम से बतायें।
पोस्ट Knowledgeable लगी हो तो इसे दुसरों के साथ भी शेयर करें।

मैं शमीम अहमद आपसे मिलता किसी दूसरे पोस्ट में तब तक के लिए Good Bye

1 Comments

Please do not enter any type of spam or link in the comment box

  1. Thank u sir blue screen k bare me batane k liye hamare laptop me bhi yeh hua tha to humne format kar diya par os install hone k bad kuch der kam karta hai approx half hour k bad automatic machine band ho jata hai uska koi solution

    ReplyDelete

Post a Comment

Please do not enter any type of spam or link in the comment box

Previous Post Next Post